Hit and Run Law क्या है? हिट एंड रन कानून से किसका हानि हुआ

नया कानून ड्राइवर क्या है?: देश में आज चारों तरफ ड्राइवर का हड्ताल चल रहा है। इसके पीछे नया हिट एंड रन। कानून है। इस नए हिट एंड रन कानून में 10 साल की सजा अथवा 7 लाख का जुर्माण प्रावधान किया गया है।

WhatsApp Group Join Now
Instagram Group Follow Me
क्या है नया हिट एंड रन। कानून

जिससे ट्रक ड्राइवरों में बहुत ज्यादा आक्रोश है। इससे चारों तरफ यातायात बन्छ पड़ा हुआ है। ट्रक ड्राइवरों ने इसे वापस लेंगे की मांग कर रहे हैं। ट्रक ड्राइवरों ने इसे काला कानून बताया है। ट्रक ड्राइवरों का कहना है कि अगर वे इस कानून को मान्य करते हैं तो उन्हें भीड़ का आक्रोश को झेलना पर सकता है।

अगर कभी किसी ड्राइवर के द्वारा दुर्घटना होती है। और वो वहाँ पर रुकते है तो उन्हें लोगों के भीड़ का सामना करना पड़ेगा। कई बार इस तरह के घटनाओं में भीड़ के द्वारा ड्राइवरों का जान तक ले लिया जाता है।

हमारे देश में लगभग 25 लाख ट्रक ड्राइवर है कमाई और उनलोगो का कमाई मुस्किल से 10,000 से 25,000 तक की होती है। जो कि किसी ड्राइवर के लिए 7 लाख तक का जुर्माना देवा संभव नही है।

दूसरी तरफ, सरकार की यह मंगा है कि सड़क दुर्घटना कम से कम की जाय। और लोगो को एक सुरक्षित सड़क यात्रा मुहैया करायी जाए।

फिलहाल इस ट्रक ड्राइवरों को हरताल से बहुत सारी समस्याएँ आ गयी है। सामानो का आवागमन रुक गया है। सब्जियों, फलो और भी बहुत सारे सामानो का आवागमन रुक गया है।

जिससे लोगों की मांग को पूर्ति नही हो पा रही है। दूसरी तरफ ड्रायारों के हडताल से पेट्रोल पंप पर दुपहिया का दबाव बढ़ गया है और वहां जाम देखने को मिल रही है।

इस नये कानून का विपक्षी पार्टी एवं और भी बहुत सारों संगठनों के द्वारा विरोध किया जा रहा है। उनका कहना है। एक बार कानून लाने से पहले संगठनो से वार्तालाप करना चाहिए।

ये भी पढ़ें :-

भारत एक धर्मनिर्पेक्ष राज्य कैसे है? स्पष्ट जानकारी हिंदी में

Manish Kumar
Manish Kumar

नमस्कार दोस्तों, मैं मनीष कुमार Puredunia.com वेबसाइट का फाउंडर हूं। यहां मैं आपलोगो को नॉलेज से रिलेटेड जैसे की जनरल जरकारी, ट्रेंडिंड टॉपिक, कैरियर, सरकारी योजना, हाउ टू, इत्यादि का सही-सही जानकारी उपलब्ध करवाता हूं। अगर हमारे बारे में ओर कुछ जानना चाहते हैं तो About us page पर जाए। धन्यवाद!

Articles: 394

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *