अपने मन को नेगेटिव (negative) में जाने से कैसे रोके केवल 2 नियम को अपनाओ

सबसे पहले, मैं आप लोगों को बता दूं कि आज की इस पोस्ट में, हम सबके सामने अपने मन कि बात शेयर करने जा रहा हूं। कि अपने मन को नेगेटिव (negative) में जाने से कैसे रोके या रोका जा सकता है।

अपने मन को नेगेटिव (negative) में जाने से कैसे रोके केवल 2 नियम को अपनाओ

कलयुग के समय में 10% लोग ही पॉजिटिव (positive) सोच पाते हैं और हमेशा पॉजिटिव रहने की कोशिश करते हैं। क्योंकि उसे पता है कि अपने मन को कैसे पॉजिटिव रखा जा सकता है।

लेकिन 90% लोग ऐसे हैं जिन्हें पता ही नही है की अपने मन को नेगेटिव (negative) में जाने से कैसे रोकूं या ऐसा मैं क्या कर रहा किससे अपने मन को पॉजिटिव नहीं कर पाता हूं।

इसलिए मैं सोचा कि क्यों नहीं इस टॉपिक पर एक आर्टिकल लिखा जाए जिसे पढ़ कर लोग नेगेटिव सोच को दूर कर सके और हमेशा पॉजिटिव रह सके जिससे मन को शांति मिले और स्वस्थ रह सके क्योंकि जब शरीर से गंदगी बाहर आ जाता है।

तो मन कितना हल्का लगता है। ये महसूस आप टॉयलेट करते वक्त कर पा रहे होंगे। इस वर्ड (टॉयलेट) के लिए मुझे क्षमा करना क्योंकि जो सच है। मैं आपको बता रहा हूं। जो लोग हमेशा Google पर सर्च करते रहते हैं।

कि मन को नेगेटिव (negative) में जाने से कैसे रोके तो यह लेख खास करके उन्हीं के लिए ही लिखा गया है अब चलिए पूरे डिटेल में समझ लेते हैं कि अपने मन को हमेशा पॉजिटिव में कैसे रखे और क्या करना चाहिए या क्या नही करना चाहिए। जिससे मन में नेगेटिव (negative) सोच उत्पन ना हो।

अपने मन को नेगेटिव (negative) में जाने से कैसे रोके केवल 2 नियम को अपनाओ

अपने आप को व्यस्त (Busy) हो जाओ

आप एक बार जरूर सोचो कि आखिरकार हमसे कोई गलत काम क्यों हो जाता है। क्या कारण है। जिससे अपने मन को पॉजिटिव नहीं रख पाते हैं। तो आप एक चीज नॉटिस किए होंगे कि हमसे गलत काम तब हो जाता है जब हम भर दिन में कुछ नही करते हैं यानी बस बैठे रहते हैं और कुछ न कुछ सोचते रहते हैं।

उसी समय मन में गलत भावना या विचार भी पैदा होते रहते हैं। जिसके कारण आप गलत काम कर बैठते हैं। इसीलिए मैं आपलोगो को कहना चाहूंगा कि ज्यादा से ज्यादा हर रोज किसी अच्छे काम में व्यस्त (Busy) रहने की कोशिश करें ताकि मन में किसी प्रकार का बुरा विचार उत्पन न हो और अपने मन को नेगेटिव की ओर जाने से रोक सकते हैं।

मोबाइल का उपयोग सही से करे

आज की इस जनरेशन में देखा जाए तो कहीं ना कहीं internet का उपयोग बहुत ज्यादा हो रहा है यहां तक कि सारा काम ऑनलाइन ही हो रहा है (Teaching, reading and online shopping etc) और भिन्न प्रकार के विडियो भी इंटरनेट के माध्यम से देख पाते हैं। जो ज्यादा तर लोग वीडियो देखने के लिए mobile का ही उपयोग करते हैं।

मैं आप को बता दूं कि मोबाइल का सही सही उपयोग न करना भी आपके मन में नेगेटिव भावना को उत्पन कर सकता है। तो ये आप पे डिपेंड करता है कि मोबाइल का उपयोग कैसे करते हैं। क्योंकि इंटरनेट एक ऐसा माध्यम है जिससे आप बहुत कुछ सिख सकते हैं और अपने मन को भी हमेशा पॉजिटिव रख सकते हैं।

इसको गलत तरीके से यूज करना आपके मन में नकारात्मक प्रभाव आ सकता है। इसीलिए mobile, leptop इत्यादि में वही देखे जिससे आप कुछ सीख सके जैसे कि मोटिवेशन, रामायण और महाभारत इत्यादि क्योंकि जो देखिएगा वही करिएगा अगर आप गलत (गंदा) विडियो देखते हैं।

तो जरूर आपसे गलत काम हो सकता है और अपने मन को नेगेटिव में जाने से नहीं रोक सकते हैं। अगर हम पे विश्वास नहीं है तो एक बार ट्राई कर के देख लीजिए तब बताएगा ये बात सही है या गलत अभी भी टाइम है सुधर जाओ और हमेशा पॉजिटिव सोचो

ये भी पढ़ें :-

Resume कैसे बनाएं [ professional resume अपने हाथों से]

House number कैसे पता करे। [यह है मकान नंबर या गृह संख्या चेक करने का सटीक तरीका जानिए आसान शब्दों में]

IAS कैसे बनें? जानिए इसकी पूरी जानकारी हिंदी में

Airtel sim का number कैसे निकाले केवल 2 तरीका? 2023 जानिए

आज आपको क्या सीखने को मिला

मुझे उम्मीद है कि आप मेरे द्वारा बताए गए 2 नियम को फ्लो कर के अपने मन को नेगेटिव (negative) में जाने से रोके सकते हैं। क्या मैं जान सकता हूं कि यह आर्टिकल पढ़ने के बाद आपके लिए कितना हेल्पफुल रहा और कैसा लगा तो प्लीज कॉमेंट कर के जरूर बताएं अंत में बस इतना ही कहना चाहूंगा कि अपने दोस्तों को और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करना ना भूलें। धन्यवाद

Manish Kumar
Manish Kumar

नमस्कार दोस्तों, मैं मनीष कुमार Puredunia.com वेबसाइट का फाउंडर हूं। यहां मैं आपलोगो को नॉलेज से रिलेटेड जैसे की जनरल जरकारी, ट्रेंडिंड टॉपिक, कैरियर, सरकारी योजना, हाउ टू, इत्यादि का सही-सही जानकारी उपलब्ध करवाता हूं। अगर हमारे बारे में ओर कुछ जानना चाहते हैं तो About us page पर जाए। धन्यवाद!

Articles: 390

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *